झारखंड में खंड शिक्षा ऑफिसर (BEO Officer Kaise Bane) पूरी जानकारी

अगर आप का भी सपना हैं झारखंड में BEO ऑफिसर कैसे बने (BEO officer Kaise Bane) तो चलिए मैं आपको बताता हूं की आप खंड शिक्षा ऑफिसर कैसे बन सकते हैं और क्या क्वालिफिकेशन चाहिए, क्या एग्जाम पैटर्न होता है क्या सिलेबस होता है और क्या एग्जाम level होता है, इन सभी चीजें के बारे में इस आर्टिकल में आपसे जिक्र करेंगे इसलिए इस आर्टिकल को ध्यान से और अंत तक जरूर पढ़ें।

आज का समय मैं सरकारी नौकरी लेना बहुत ही कठिन होता है,और आज के समय में अधिकतर युवा यह चाहते हैं कि एक सरकारी नौकरी को करें। प्रशासनिक सेवा में अलग-अलग पदों का ऑफिसर होते हैं। अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए युवा कड़ी मेहनत करते हैं। लक्ष्य की प्राप्ति के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह होती है कि आपको अपने लक्ष्य की सारी जानकारियां होनी चाहिए।

jharkhand mein beo officer kaise bane
Jharkhand mein BEO officer kaise bane details in Hindi

झारखंड में (खंड शिक्षा) BEO officer Kaise Bane? – How To Become Block Education Officer in Jharkhand

झारखंड में BEO officer बनने के लिए आपको JPSC एग्जाम देना होता है जो स्टेट के लेवल पर करवाया जाती है जो लोक सेवा द्वारा आयोजितइनका सारा काम प्राइमरी स्कूलों से सम्बन्धित होता है जैसा कि प्राइमरी अध्यापकों की हाजिरी लेना कि, वो स्कूल आये हैं कि नहीं जो कि अब ज्यादातर ऑनलाइन  हो जाती है।प्राइमरी अध्यापक इन्हीं की अनुमति से छुट्टी लेता है जैसे सी०एल० मातृत्व अवकाश आदि ।

BEO officer का फुल फॉर्म (BEO Officer Full Form) क्या होता है?

बीईओ का फुल फॉर्म ब्लॉक एजुकेशन आफिसर होता है और जिसे हिंदी मे खंड शिक्षा अधिकारी  भी कहते है या पोस्ट जिला स्तर पर होता है।

जरूर पढ़े –

BEO ऑफीसर क्या होता  है? – What is BEO Officer

पहले इस पद का नाम ABSA-Assistant Basic Shiksha Adhikari मतलब BSA का सहायक अधिकारी जिसका पदनाम बदलकर अब BEO- Block Education Officer कर दिया गया ।BEO officer अपने ब्लॉक की शिक्षा व्यवस्था का पूरी जिम्मेदारी उठाते हैं उन्हें यह देखना होता है कि उनके ब्लॉक में जितने भी सरकारी स्कूलों जितने भी विद्यालय हैं|

वहां पर अच्छे से पढ़ाई हो रहे हैं क्या नहीं  उन विद्यालयों तक सरकारी परियोजनाओं को लागू करना इनका ही काम होता है। खंड शिक्षा अधिकारी (Block Education Officer) की जिम्मेदारी होती है कि वह अपने ब्लॉक के अंदर जितने भी विद्यालय हैं सरकारी विद्यालय वहां पर किताबों की और शिक्षकों की अच्छी व्यवस्था उपलब्ध कराएं और|

वहां की नीतियों और व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करें। ब्लॉक में कोई भी परीक्षा होती है इस परीक्षा की जिम्मेदारी भी ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर की होती है। Block Education Officer यह भी जांच करते हैं कि उनके ब्लॉक में कोई भी शिक्षा परियोजनाओं को गलत तरीके से तो इस्तेमाल नहीं कर रहा है और उनमें कोई भ्रष्टाचार तो नहीं हो रहा है|

इन सब की जांच की जिम्मेदारी में भी ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर की होती है। सरकार द्वारा संचालित शिक्षा परियोजना और ब्लॉक में स्थित विद्यालयों को इन  पर योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए  Block Education Officer बीच की सीढ़ी का काम करता है।

झारखंड में BEO officer बनने के लिए क्या क्वॉलिफ़िकेशन चाहिए? BEO Officer Qualification in Hindi

  • Block education officer के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी विषय से 12वीं की कक्षा पास करनी होती है।
  • ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर के लिए आपको कम से कम किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से किसी भी विषय से ग्रेजुएशन का कोर्स करना होता है।
  • कैंडिडेट के पास Ed की डिग्री होना अनिवार्य है।
  • या कैंडिडेट के पास t डिप्लोमा ऑफ द government basic ट्रेनिंग कॉलेज की डिग्री होना चाहिए है।

झारखंड में BEO बनने के लिए क्या आयु सीमा (Age limit) है? – BEO officer Age Requirement?

झारखंड में BEO बनने के लिए आपका आयु न्यूनतम 18  वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए ।

  • General category:– general  वर्ग वालो के लिए आयु सीमा 21 से 40 तक दी गई है।
  • OBC category:– OBC वर्ग  वालो के लिए 3 वर्ष की छूट दी गई है ।
  • Sc/st category :–Sc/st वर्ग वालों के लिए 5 वर्ष की छूट दी गई है।

झारखंड में  BEO officer बनने  के लिया क्या Exam Pattern होता है? BEO officer Exam Level in Hindi

झारखंड में BEO ऑफिसर एग्जाम तीन स्तर पर होता है:–

  1. Prelims Exam(प्रारंभिक परीक्षा):–यह प्रथम चरण का परीक्षा होता है इसमें 2 पेपर होते हैं और दोनों पेपर 300 मार्क्स के होते हैं इसमें 120  क्वेश्चन पूछे जाते हैं और यह पेपर 2 घंटे का होता है। साथ ही साथ इसमें objective type क्वेश्चन पूछ जाते है और 1/3 निगेटिव मार्क्स भी होता है।
  2. Mains exam( मुख्य परीक्षा ):–या दूसरा चरण का परीक्षा होता है इसमें 2 पेपर होते हैं जैसा जेनरल स्टडीज, जेनरल हिंदी और essay. जो जनरल स्टडीज पेपर में 200 मार्क्स और  120 क्वेश्चन पूछे जाते हैं   और जनरल हिंदी में 40 क्वेश्चंस पूछे जाते हैं जो 200   मार्क्स के होते हैं।
  3. Interview(साक्षात्कार परीक्षा):–यह तीसरा चरण का परीक्षा होता है इसमें आप प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा सफल होने के बाद आपको इंटरव्यू के लिए कुछ अधिकारियों के द्वारा बुलाया जाता है और आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जिसका आपको उत्तर देना होता है यह एग्जाम मौखिक में होता है आप इस इंटरव्यू के सफल होने के बाद आपका नाम मेरिट लिस्ट में आ जाता है और आपका beo officer का सिलेक्शन हो जाता है।

झारखंड में BEO officer बनने के लिए क्या सिलेबस होता हैं? – BEO Officer Exam Syllabus

Premils syllabus:–सामान्य विज्ञान,भारत का इतिहास,शिक्षा, संस्कृति, कृषि,गणित,भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन भारतीय राजनीति विश्व भूगोल, भारतीय भूगोल वर्तमान राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय घटनाए,जनसंख्या, प्रिस्थितिकी और शहरीकरण,अर्थव्यवस्था और संस्कृति भारतीय कृषि, वाणिज्य और व्यापार से प्रमिल्स एग्जाम में क्वेश्चंस पूछे जाते है।

Mains syllabus:–इसमें 3 subjects होते है:–

Genral studies:–भारत का इतिहास,भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन,भारत का भूगोल , का विकास संस्कृति, कृषि, उद्योग व्यापार,भारतीय राजव्यवस्था,भारतीय कृषि,राष्ट्रीय मुद्दे,भारत की अर्थव्यवस्था,अंतरराष्ट्रीय मामले से मैंस में सवाल पूछे जाते हैं।

General Hindi:–अपठित गद्यांश का संशेपन्न शासकीय और अर्ध शासकीय,कार्यालय आ,संधि,समास,शब्द रूप,पत्रलेखन,किर्या,वाक्यों का अनुवाद अनेकार्थ शब्द,मुहावरे, लोकोक्तियाँ,विलोम शब्द पर्यायवाची शब्द,वाक्य रचना,वर्तनी से मैंस में सवाल पूछे जाते हैं।

Essay:–इस पेपर मे 3 टॉपिक से 700 शब्दों में लिखना होता है। जैसा साहित्य और संस्कृति,सामाजिक क्षेत्र,विज्ञान, पर्यावरण और प्रौद्योगिकी,आर्थिक क्षेत्र,राजनैतिक क्षेत्र,. कृषि उद्योग एवं व्यापार किस एक में  लिखना होता है।

झारखंड में BEO officer का सैलरी कितना होता है? –BEO officer Salary in Jharkhand

Block education officer को वेतन सरकार के सातवें वेतन के आधार पर मिलता है इसके अनुसार ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर को हर माह ₹45000 से लेकर ₹55000 तक मिलता है। और ग्रेड पे के तौर पर इन्हें ₹4800 हर महीने दिया जाता है।

झारखंड में BEO  ऑफिसर  (Beo officer) का प्रमोशन (Promotion) कैसे होता है?

जब आप jpsc एग्जाम दे के BEO offcier बनते है तो 10 या 15 साल में आपका प्रमोशन BSA में हो जाता है और जब आप बीएसए बन जाते  है तो 20 या 26 साल में आपका प्रमोशन  joint director बन जाते है।

झारखंड में BEO Officer का क्या काम होता है? Beo Officer work in hindi

इनका सारा काम प्राइमरी स्कूलों से सम्बन्धित होता है जैसा कि प्राइमरी अध्यापकों की हाजिरी लेना कि, वो स्कूल आये हैं कि नहीं जो कि अब ज्यादातर ऑनलाइन  हो जाती है।प्राइमरी अध्यापक इन्हीं की अनुमति से छुट्टी लेता है जैसे सी०एल० मातृत्व अवकाश आदि ।

अगर ब्लॉक के किसी स्कूल में कोई जांच होनी है तो वो में जांच यही अधिकारी करता है।अगर कोई अध्यापक सस्पेंड है तो उसकी पुनः बहाली इन्हीं की संस्तुति से होती है।

अध्यापकों की ज्वाइनिंग से लेकर उनको स्कूल आवंटित करने की संस्तुति इसी अधिकारी के द्वारा होती है।  कुल मिलाकर आप ये समझे कि खंड शिक्षा अधिकारी’ प्राइमरी अध्यापकों का प्रशासनिक अभिभावक होता है।अध्यापकों के ट्रांसफर की संस्तुति यही अधिकारी करता है। अध्यापकों की किसी भी प्रकार की ट्रेनिंग जब भी होती है इन्हीं के संस्तुति या इन्हीं के द्वारा करायी जाती है।

अगर अध्यापक को किसी भी प्रकार की अनियमितता में लिप्त पाया जाता है तो उनको सस्पेंड या बर्खास्त की संस्तुति ये अधिकारी कर सकता है।प्राइमरी स्कूल के विकास के लिए जो पैसा आता वो इन्हीं के सरकारी खाते में आता है फिर ये चेक के माध्यम से उस पैसे का वितरण ब्लाक के स्कूलों में करते हैं।

Conclusion

मैं इस आर्टिकल में आपको बताया कि आप झारखंड में BEO ऑफिसर कैसे बने (BEO officer Kaise Bane) और क्या-क्या क्वालीफिकेशंस? क्या सिलेबस है?क्या एग्जाम पैटर्न होता है क्या सैलरी है  क्या  कार्य होते हैं इन सभी चीजों के बारे में इस आर्टिकल  के माध्यम से बताया हूं तो आप बताइएगा की आपको आर्टिकल पढ़कर कैसा लगा कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं और BEo ऑफिसर से संबंधित कुछ प्रश्न या जानकारी चाहिए तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment